नरेन्द्र मोदी ने देश को फिर बचा लिया, आ गए आंकड़े – इसे कहते हैं अच्छे दिन

1437

.नरेन्द्र मोदी ने देश को फिर बचा लिया, और नोटबंदी भारत के लिए वरदान की तरह साबित हुई
क्योंकि दुनिया में आर्थिक मंदी है, दुनिया भर के बड़े बड़े देश जिनमे चीन भी शामिल है सबकी इकॉनमी नीचे पहुँच गयी है, पर भारत की इकॉनमी वहीँ बरक़रार
आज भी भारत की इकॉनमी दुनिया के बड़े देशों में एकमात्र इकॉनमी है जो 7% की दर से बढ़ रही है आपको हम कुछ बयान याद दिलाना चाहते है, जो नोटबंदी के बाद दिए गए

* कथित अर्थशास्त्री मनमोहन सिंह ने कहा था की, इकॉनमी 7% से घटकर 5% हो जाएगी, कहा था की इकॉनमी 2% घट जाएगी

* अमर्त्यसेन ने कहा था की मोदी की नोटबंदी भारत के लिए आर्थिक आपातकाल है, भारत की इकॉनमी का सत्यानाश हो जायेगा

* पी चिदंबरम के कहा था की, नोटबंदी से बनी बनाई इकॉनमी तबाह हो जाएगी, बेरोजगारी आ जाएगी, आर्थिक महामारी आ जाएगी

और इस तरह के कई बयान दिए गए थे, आंकड़े आ गए, और नोटबंदी के बाद भारत दुनिया की सबसे तेज इकॉनमी बनी हुई है और 7% की ग्रोथ से बढ़ रही है
नोटबंदी के कारण भारत को भारी राजस्व प्राप्त हुआ है, और सरकार के पास अब देश के लिए काम करने के लिए अच्छा ख़ासा धन पहुंच चूका है, और सरकार देश के लिए कार्य कर रही है जिसके कारण आज भी हमारी जीडीपी 7% है

और एक चीज जानिये, आर्थिक एजेंसी नीलसन ने भविष्यवाणी की है की, 2017-18 वित्तीय साल में भारत की इकॉनमी 7.8% हो जाएगी जो की पूरी दुनिया को मुँह चिढ़ाएगी खासकर चीन को