IPC Section 314 – The Indian Penal Code – भारतीय दण्ड संहिता की धारा 314

676

Central Government Act IPC Section 314 in The Indian Penal Code

Death caused by act done with intent to cause miscarriage- Whoever, with intent to cause the miscarriage of a woman with child, does any act which causes the death of such woman, shall be punished with imprisonment of either description for a term which may extend to ten years, and shall also be liable to fine; If act done without woman’s consent. And if the act is done without the consent of the woman, shall be punished either with imprisonment for life, or with the pun­ishment above mentioned. Explanation.—It is not essential to this offence that the of­fender should know that the act is likely to cause death.

क्या आप पर आईपीसी धारा- 314 का आरोप है?
बेल के लिए सलाह हेतु 8112333133 पर कॉल करें – सलाह की फीस 250रु से शुरू

भारतीय दंड संहिता (IPC) की  धारा-314

गर्भपात कारित करने के आशय से किए गए कार्यों द्वारा कारित मॄत्यु- जो कोई गर्भवती स्त्री का गर्भपात कारित करने के आशय से ऐसा कार्य करेगा, जिससे स्त्री की मॄत्यु कारित हो जाए, तो उसे किसी एक अवधि के लिए कारावास जिसे दस वर्ष तक बढ़ाया जा सकता है से दण्डित किया जाएगा, और साथ ही वह आर्थिक दण्ड के लिए भी उत्तरदायी होगा।
यदि वह कार्य स्त्री की सहमति के बिना किया जाए – और यदि वह कार्य उस स्त्री की सहमति के बिना किया जाए, तो उसे आजीवन कारावास, या उपरोक्त दण्ड से, दण्डित किया जाएगा। यह एक गैर-जमानती, संज्ञेय अपराध है और सत्र न्यायालय द्वारा विचारणीय है एवं यह अपराध समझौता करने योग्य नहीं है।

स्पष्टीकरण- इस अपराध के लिए यह आवश्यक नहीं है कि अपराधी जानता हो कि उस कार्य से मॄत्यु कारित करना सम्भाव्य है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here