जब एक कुतिया ने किया अपने मालिक का अंतिम संस्कार | अजब-गज़ब

351

जौनपुर : सिपाह स्थित रामघाट पर मंगलवार को दाह संस्कार के लिए लगायी गयी मालिक की चिता को आग देने के वक़्त घर की कुतिया भी परिक्रमा की ।आग उसकी दूसरी पत्नी ने दी जानकारी के अनुसार  आजमगढ़ निवासी सूबेदार यादव पीछ्ले 15 वर्षो से स्थित सुक्खिपुर मोहल्ले में रहते थे। मंगलवार को उनका देहांत हो गया था। उनकी पहली पत्नी का बेटा दिल्ली से नहीं आ पाया इसलिए उनकी दूसरी पत्नी आसपास के लोगों के साथ अंतिम संस्कार के लिए पति का शव लेकर गोमती तट स्थित रामघाट पहुंची। जब शव श्मशान पहुंचा तो पाँच माहिलाये शव के पास बैठी थी। उनकी पालतू कुतिया भी वहीं शांत मुद्रा में बैठी रही। शव को चिता पर लिटाया गया 5 लोगों को शव की परिक्रमा करनी थी। पत्नी ने चिता की परिक्रमा शुरू की तो उनकी पालतू कुतिया रोली भी उनके साथ चिता की परिक्रमा करने लगी। उस वक़्त लोगों को 1985 की फिल्म तेरी मेहरबानियाँ की याद आ गई इस फिल्म में एक कुत्ते ने अपने मालिक की चिता की परिक्रमा की थी।