AAGAZ INDIA
TRUTH BEHIND THE NEWS

🔰 CHIEF EDITOR 🕛 25 JUL 2021 ⚡ 1699

लखनऊ : अमित शाह बनकर नेताओ को मंत्री बनाने का झांसा देकर करोड़ों लूटने वाले चढ़े क्राइम ब्रांच के हत्थे

सार : हमारे व्हाट्सएप्प ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये नीचे क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी खबर के लि‍ये आगाज इंडिया न्यूज़ ऐप डाउनलोड करें।

लखनऊ : एक समूह के बारे में जानकारी मिली है जो की केंद्रीय गृह मंत्री का पर्सनल सचिव बनकर बड़े-बड़े नेताओं को ठगने का काम करता था। यह समूह नेताओं से मंत्री बनाने, विधायक व विधान परिषद का टिकट दिलवाने के नाम पर करोड़ों रुपए ले लेता था। हमारे देश एक से बढ़कर एक टैलेंटेड लोग मौजूद है। कुछ लोग उस टैलेंट का सही जगह इस्तेमाल करते हैं तो कुछ लोग गलत जगह इस्तेमाल करके भी पैसे कमाने की कोशिश करते हैं। इसी पर आधारित एक मामला देखने को मिल रहा है। फिलहाल इस समूह को हजरतगंज क्राइम ब्रांच ने धर लिया है।

बता दे कि इस समूह में कई लोग काम करते थे। ठगी का काम योजनाबद्ध तरीके से होता था। फिलहाल इस समूह के 4 सदस्यों को पुलिस ने धर लिया है। दरअसल यह समूह प्रयागराज की रहने वाली महिला नेता को मंत्री बनाने का वादा कर, लाखों रुपए ले चुका था। मंत्री नहीं बनाए जाने पर महिला नेता जब उनसे दोबारा संपर्क करने की कोशिश की तब नंबर स्विच ऑफ था। कुछ दिनों बाद महिला को जानकारी मिली की कोई समूह है जो बड़े-बड़े नेताओं को बेवकूफ बनाता है। इस बात का पता चलते ही महिला नेता ने थाने पहुंचकर मामला दर्ज करवाया था।

क्राइम ब्रांच के एसीपी प्रवीण मलिक (ACP Praveen Singh) के अनुसार धरे गए चारों लोगों में दो लोग उत्तराखंड के उधम सिंह नगर के रहने वाले हैं। शमीम अहदम खान उधमसिंह नगर के संजय कालोनी का रहने वाला है। हसनैन अली इ स्लामनगर का रहने वाला है। एक शख्स हिमांशु सिंह बलिया के रानीगंज कोटवा का रहने वाला है। वहीं जाने आलम बरेली के नवाबगंज का रहने वाला। इस समूह के 2 सदस्य अभी पुलिस की प कड़ से बाहर है। इन दोनों व्यक्तियों की पुलिस को तलाश है। इन दोनों का नाम शाहिद और बल्लू है।

पुलिस द्वारा धरे गए चारों व्यक्तियों में से हसनैन नाम का शख्स सभी क्षेत्रीय और स्थानीय नेताओं को गृह मंत्री बनकर कॉल करता था। कॉल पर हसनैन नेताओं को एमएलए और एमएलसी बनाने की बात करता था। उनके साथियों के मोबाइल में भी हसनैन का नाम गृह मंत्री के नाम से सेव था। वहीं दूसरी तरफ नवाबगंज का शाहिद गृह मंत्री अमित शाह का निजी सचिव बन जाता था। शाहिद ने ही कई बार रीता सिंह को कॉल करें गृह मंत्री बने, हसनैन से बात करवाता था।

varanasi news in hindi

वाराणसी न्यूज़

ऐसी खबरें अपने मोबाइल पर पाने के लिए हमारे व्हाट्सएप्प ग्रुप से जुड़ें!
JOIN WHATSAPP GROUP
लखनऊ : अमित शाह बनकर नेताओ को मंत्री बनाने का झांसा देकर करोड़ों लूटने वाले चढ़े क्राइम ब्रांच के हत्थे, varanasi news in hindi, वाराणसी न्यूज़
⭐ SHARE THIS NEWS ⭐
⭐ LATEST NEWS ⭐
CHIEF EDITOR
25/07/2021
813
2
Google News + AMP Verified