नहीं चेता प्रशासन तो पॉपुलर हॉस्पिटल बनेगा बनारस के लिए काल

133

वाराणसी : वो दिन दूर नहीं जब जनपद वाराणसी के ककरमत्ता स्थित पॉपुलर हॉस्पिटल वाराणसी के लिए काल बन जाएगा। जिला प्रशासन की अनदेखी का नतीजा ये न हो बनारस में भी दिल्ली जैसे हालात पैदा हो जाए। पॉपुलर हॉस्पिटल के दो कर्मचारी अभी तक कोरोना पॉसिटिव निकले हैं। जिसके बाद न तो अस्पताल बंद हुआ और न ही वहाँ मौजूद मेडिकल स्टाफ और अन्य कर्मचारियों को क्वारंटाइन किया गया।

अस्पताल के एकाउंटेंट के कोरोना पॉसिटिव मिलने के बाद अस्पताल प्रबंधन द्वारा उससे संपर्क मे आए लोगों का विवरण तो छिपाया गया और जिला प्रशासन को गुमराह भी किया गया की उक्त कर्मचारी अस्पताल में नहीं बल्कि कुछ दिनों से जानकी नगर स्थित पॉपुलर अपार्टमेंट में रह रहा था। जिसके बाद प्रशासन ने भवन को सील कर दिया जिसमें कोई रहता ही नहीं था। सील किया गया भवन काफी पहले से ही बंद है।

popular hospital varanasi, popular hospital misleading district administration, varanasi news in hindi, corona virus news varanasi

भवन के आसपास के लोगों का कहना है की इस भवन में तो कई महीनो से ताला लगा है और कोई रहता नहीं है और इस भवन में बिजली का कनैक्शन भी नहीं है। अस्पताल प्रबंधन ने ये सारा ड्रामा अस्पताल को सील होने से बचाने के लिए और धंधा बंद न होने के लिए रचा है। वहीं अस्पताल प्रबंधन का कहना है की उक्त कर्मचारी 5 जून को चेन्नई से आया था जिसके बाद से ही वो क्वारंटाइन था।

वहीं रानीपुर वार्ड पार्षद अजय गुप्ता का कहना है की पॉपुलर हॉस्पिटल अपने फायदे के लिए सबकी जान जोखिम में डाल रही है और इस लापरवाही के वजह से न जाने कितने लोग संक्रमित हो सकते है। क्यूंकी यहा आए मरीज भिन्न-भिन्न जनपदों और क्षेत्रों से आकर इलाज कराते हैं। यहा काम करने वाले कर्मचारी ककरमत्ता क्षेत्र के आस-पास के इलाके ककरमत्ता उत्तरी, न्यू कॉलोनी, जेपीस नगर, भिखारीपुर, लखराव, रानीपुर आदि क्षेत्रों से आते हैं जिससे इन क्षेत्रों में संक्रमण फैलने की संभावना है।

SOURCE : HIND BHASKAR