ये है रईस के बहिष्कार के कारण, आप भी बहिष्कार कर रहे हैं तो शेयर करें

826

शाहरुख़ खान ने फिल्म बनाई है नाम है “रईस”
इस फिल्म के बहिष्कार की सख्त जरुरत है और उसके 1 नहीं बल्कि अनेको कारण है

* सबसे पहली चीज तो ये फिल्म एक गुंडे को रॉबिनहुड बनाने के लिए बनाई गयी है, शाहरुख़ खान जिस गुंडे का इसमें चरित्र निभा रहे है उसका नाम है “अब्दुल लतीफ़”
जो 1990 के दशक में गुजरात के अहमदाबाद का एक बड़ा गुंडा था, जो दाऊद का गुजरात में गुर्गा था
पाकिस्तान में आना जाना, हथियारों की सप्लाई. हिन्दुओ के घर दुकानों पर कब्ज़ा करना, महिलाओ का बलात्कार और उनको अरब के देशों में बेचना जिसका मुख्य काम था

विकिपीडिया और गूगल पर आप अब्दुल लतीफ़ के बारे में पढ़ सकते है – ABDUL LATIF

* इस फिल्म की अभिनेत्री है पाकिस्तानी “माहिरा खान” और ये वही है जिसने उडी हमले की निंदा करने तक से मना कर दिया था और न इसने आतंकवाद की निंदा की
ये पाकिस्तानी आतंक समर्थक है तथा पाकिस्तानी होना ही काफी है




* इस फिल्म में नवाजुदीन सिद्दीकी नाम का अभिनेता भी है, ये वही है जिसकी भाभी रोकर सुरक्षा की गुहार लगा रही थी, ये अपने भाई के साथ मिलकर अपनी ही भाभी पर दहेज़ के लिए अत्याचार का आरोपी है

* इस फिल्म में शाहरुख़ खान है – अब इनकी तारीफ में क्या लिखें
इनको तो पेप्सी “माँ” के दूध से अच्छा लगता है, “पेप्सी पर रोक लगाई तो मैं बाहर जाकर पेप्सी पिऊंगा”
ये तिरंगे को उल्टा पकड़ते है, स्टेडियम में बच्चों के सामने गाली गलौज करते है, गरीब पर अपनी हैसियत दिखाते है, भारत को असहिष्णु बताते है, पाकिस्तान से इनके क्या सम्बन्ध है दुनिया जानती है
आतंक फैलाने वाली संस्था ISI से इनके करीबियों का सम्बन्ध है, इनकी तारीफ बहुत लंबी है

NOTE : शाहरुख़ खान ने आजतक पाकिस्तान की निंदा तक नहीं की है, कभी भी नहीं

खैर, आपको अब ये तय करना है की, एक ऐसी फिल्म को देखेंगे या बहिष्कार करेंगे
जिसके कलाकार ही भ्रष्ट है, और जिस फिल्म में एक गुंडे को रॉबिनहुड बनाने की कोशिश है, हमारे मुताबिक इस फिल्म के साथ एक ही सलूक बनता है वो है “बहिष्कार”