अब कांग्रेस नेता ने दिया विवादित बयान, कहा ऐसी कोई दलित महिला नहीं जो मेरे बेडरूम तक न गई हो

2410

उत्तर प्रदेश में पहले ही कांग्रेस की हालत कुछ ख़ास न थी और न नज़र आ रही है। कांग्रेस फिलहाल राज्य में अपनी जगह बनाने की कोई कसर नही छोड़ रही है। एक तरफ पार्टी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी सत्ता में वापस आने के लिए अपना पूरा जोर लगाए हुए है तो दूसरी तरफ पार्टी के एक नेता ‘घर का भेंदी लंका ढाए वाला काम करते हुए’ पार्टी की पूरी मेहनत पर पानी फेरते हुए नज़र आ रहे है।

राहुल गांधी ने राज्य में पार्टी की वापसी के लिए काफी मेहनत की है। इतनी मेहनत करने के बावजूद पार्टी के कुछ नेता उन्ही की पार्टी का रास्ते का काटा बने बैठे है। दरअसल हुआ ये कि उत्तर प्रदेश के कांग्रेस उपाध्यक्ष राजाराम पाल ने कांग्रेसी कार्यकर्ताओ के साथ कानपूर में एक प्रदर्शन किया था।

जो कि राहुल गांधी को दिल्ली में हिरासत में लेने के विरोध में किया जा रहा था। इसी प्रदर्शन में राजाराम पाल ने दलितों पर ऐसा विवादित बयान दिया है जिससे विवाद होना तय है। इससे पार्टी की राज्य में छवि को गहरा धक्का लग सकता है।

राजाराम पाल से दलित महिलाओ के साथ देश में हो रहे भेदभाव पर सवाल करने पर अपने जवाब में कहा की कांग्रस ने दलित महिलाओं के साथ कभी भेदभाव नहीं किया है। राजाराम ने आगे कहा की हमारे घर में सभी महिलाओ को आने की पूरी अनुमति है।

कोई भी दलित महिला घर के अंदर कोई भी जगह पर आ जा सकती है। यही नहीं उनको हमारे बेडरूम में भी जाने की अनुमति है। ऐसी कोई दलित महिला नहीं होंगी जो हमारे बेडरूम तक नहीं गई होंगी।

भाजपा ने राजाराम के बयान पर प्रतिक्रिया जताते हुए कहा की राजाराम का यह बयान कांग्रेस की मानसिकता को दर्शाता है। कांग्रेस के अंदर महिलाओ का कितना सम्मान और आदर किया जाता है, यह साफ़ नज़र आरहा है। राहुल गांधी को इस मुद्दे पर अपनी प्रतिक्रिया दिखाते हुए राजाराम के खिलाफ कड़ी करवाई करवानी चाहिए।

.