AAGAZ INDIA NEWS logo

कानपुर: गोविंद नगर विधायक सुरेन्द्र मैथानी ने अपना 3 मंजिला भवन कोविड मरीजो के लिया दिया दान

SANDEEP KR SRIVASTAVA 05/05/2021 381


SHARE ON WHATSAPP

कानपुर: गोविंद नगर विधानसभा श्रेत्र से बीजेपी के विधायक सुरेन्द्र मैथानी ने कानपुर में जब ऑक्सिजन की किल्लत हुई तो उन्होने सबसे पहले 50 लाख रुपये ऑक्सिजन के लिए दिए थे।
इसके बाद उन्होंने मुख्यमंत्री राहतकोष में भी 50 लाख रुपये जमा कराए थे।

कानपुर में इस समय कोरोना संक्रमण अपने चरम पर है। और कोविड तथा नॉन कोविड मरीजो को अस्पतालों में बेड और ऑक्सिजन नहीं मिल पा रही है। इस आपात स्थिति में बीजेपी विधायक सुरेंद्र मैथानी ने एक बार फिर से मदद के लिए हाथ बढ़ाए हैं। विधायक सुरेंद्र मैथानी ने अपने 400 गज जमीन पर बने तीन मंजिला प्लाट में अस्थायी कोविड अस्पताल बनाने की मांग की है।
विधायक ने डीएम को पत्र लिखाकर कहा है, कि मैं अपने 3मंजिला इमारत को पूरे कोरोनाकाल खंड के लिए कानपुर की जनता को समर्पित करता हूं।

विधायक हमेसा जनता के सेवा के लिए निस्वार्थ जुटे रहते है। इसके साथ ही कानपुर के 09 बीजेपी विधायकों ने एक-एक करोड़ रुपये मिलाकर कुल 09 करोड़ कोविड अस्पतालों के दिए थे। इसकी भी अगुवाई सुरेंद्र मैथानी ने की थी।

113 बेड का बन सकता है हॉस्पिटल
विधायक सुरेंद्र मैथानी ने डीएम को पत्र लिखकर कहा है कि काकादेव नवीन नगर में 400 गज के प्लाट पर तीन मंजिला मकान है, जिसमें बिजली-पानी की पुख्ता इंतजाम है। इस प्लाट में 34 कमरे और 5 बड़े हॉल हैं। इस प्लाट में 113 बेड का अस्थायी अस्पताल आसानी से बन सकता है। इसका उपयोग आइसोलेशन, क्वारंटीन, या अन्य किसी राहत देने वाली प्रक्रिया में हो सकता है। इसके उपयोग बदले में मुझे किसी प्रकार का कोई पैसा नहीं चाहिए।

बीजेपी विधायक ने कहा कि बहुत से गरीब परिवार हैं, जो एक कमरे में चार से पांच लोग गुजर बसर करते हैं। इस स्थिति में यदि किसी एक को कोरोना होता है तो परिवार के अन्य सदस्यों को भी संक्रमित कर देता है, जिनके पास क्वारंटीन होने की व्यवस्था नहीं है, उनको इस प्लाट में ठहराया जा सकता है।

गौरतलब है,कि एक बार विधायक जी भी करोना पॉजिटिव हो चुके है,उनके बुलन्द हौसलो के आगे करोना जैसे महामारी को भी हारना पड़ा।
कानपुर ही नही पूरे भारत की जनता विधायक के इस पहल की तारीफ करती दिख रही है। और लोगों के मुंह से सुनने में ये आ रहा है,कि अगर हर प्रतिनिधि आगे आकर ऐसा कार्य करे तो करोना जैसी महामारी को हराना बहुत बड़ी बात नही होगी।

आगाज इंडिया न्यूज से विशेष बातचीत में विधायक ने बताया कि, मैं बहुत ऐसे गरीब परिवारों को जानता हूं जो एक कमरे में तीन से चार सदस्यों के साथ अपने जीवन का गुजर-बसर करते हैं। उनमें से यदि एक को करोना हो जाए तो उनके अन्य पारिवारिक सदस्य जिनमें बुजुर्ग बच्चे महिला आदि के पास ग्रसित होने के सिवा और कोई रास्ता नहीं बचता है।और वह,मजबूरीवश इस बीमारी की चपेट में आ जाते हैं।आइसोलेशन हो या क्वारंटाइन हो या अन्य प्रकार से भी इस बीमारी में सहायतार्थ यदि इस निशुल्क दिये जाने वाले मकान का उपयोग हो सके,तो उपयोग करना चाहिए। जिसका मेरे द्वारा कोई भी शुल्क(पैसा) नहीं लिया जाएगा।जिसमें बिजली पानी तथा वर्तमान की सभी सुविधाएं उपलब्ध है।
विधायक ने कहा क्योंकि पिछले दिनों कोरोना से पीड़ित होकर 3:30 महीना जिंदगी और मौत से जूझकर,मुझे दोबारा जीवन प्राप्त हुआ था।इसलिए इसकी वीभत्सा तथा कठिन परिस्थितियों को मैं भली-भांति जानता हूं।और इससे द्रवित होकर मैं अपना मकान इस वर्तमान समय के पूरे कोरोना के संक्रमण के कालखंड के लिए निशुल्क रूप से समर्पित करता हूं।
विधायक ने जिलाधिकारी से कहा कि, कृपया गरीब जनता के हित में इसका उपयोग करें।

विधायक सुरेन्द्र मैथानी के इस जज़्बे को हमारी आगाज इंडिया न्यूज की पूरी टीम दिल से सलाम करती है।

DOWNLOAD OUR APP


1वह अक्सर कहता एक घर बनाऊंगा तेरे घर के सामने, उसी प्रेमी की चिता जली अपने प्रेमिका के दरवाजे के आगे
2रातो-रात सुर्खियों में आई कानपुर हर्षिता है कौन? क्यों भेजती थी उसे राजकुंद्रा की कंपनी करोड़ो रुपये
3वाराणसी : किराए पर उठा पूरा रामनगर पुलिस थाना, टंग गया शास्त्री नगर नवीनपुर थाने का बोर्ड
4लखनऊ : अमित शाह बनकर नेताओ को मंत्री बनाने का झांसा देकर करोड़ों लूटने वाले चढ़े क्राइम ब्रांच के हत्थे
5माँ ने चलती ट्रेन से बच्चे को बाहर फेंका, पिता ने ऐसे बचाई बच्चे जान...

SHARE ON WHATSAPP SHARE ON FACEBOOK READ MORE NEWS JOIN US


SANDEEP KR SRIVASTAVA
05/05/2021
187
1