AAGAZ INDIA
TRUTH BEHIND THE NEWS

वाराणसी:रामनगर पालिका में भ्रष्टाचार का बोलबाला,पास की गई फाइलों को अतरिक्त शुल्क के लिए लगाई गई रोक

SANDEEP KR SRIVASTAVA 22/07/2021 490

SHARE ON WHATSAPP

वाराणसी: रामनगर/ जज ने जिसकी सज़ा माफ़ की अगले दिन उसको अभियुक्त बनाया-भला ऐसा भी कहीं होता है कि जज जिसे आरोप से बरी कर दे अगले दिन उसे ही आरोपी करार कर दे ! फ़िर तो देश, समाज और जनता में न्यायपालिका के प्रति तो विश्वास ही ख़त्म हो जायेगा।

जी हां सही सुना आपने कुछ ऐसा ही नजारा रामनगर की नगर पालिका परिषद में देखने को मिल रहा है।कि जहां तीन व्यक्तियों की फ़ाइल नगर पालिका प्रशासन द्वारा पास हो गई थी और उसकी बकायदा शुल्क जमा होने पर रसीद भी काटी जा चुकी थी बस मकान नम्बर आवंटित होना था कि अचानक नगर पालिका अध्यक्ष द्वारा उस फ़ाइल को यह कह कर रोक दिया जाता है कि ये फ़ाइल ग़लती से पास कर दी गई थी। और मामला इतना तक ही नहीं एक व्यक्ति से पैसे तक की मांग की गई थी।

संज्ञान रहे जिन तीन लोगों की फ़ाइल नगर पालिका में अटकी पड़ी है उनमें से एक नगर का नामचीन पत्रकार भी है।जबकी उस पत्रकार के सारे विवाद माननीय न्यायालय वाराणसी द्वारा निपटा दिए गए हैं और उसकी फ़ाइल की रसीद भी नगर पालिका द्वारा दिया जा चुका है इसके बावजूद उस फ़ाइल को ग़लत करार दे कर उसे रोका जाना नगर पालिका के चेयरमैन की नगर के जनता के प्रति कर्तव्य और निष्ठा पर सवाल खड़ा करता है।जबकि रामपुर वार्ड के एक व्यक्ति ने नाम न छापने के शर्त पर बताया कि उससे नगर पालिका परिषद द्वारा अतिरिक्त शुल्क की मांग की गई।अब ये समझ से परे है,कि आखिरकार ऐसा क्यों हो रहा है?

अब ऐसे में देखने वाली बात ये है कि क्या जनतप्रतिनिधि और सम्बंधित अधिकारी इस मामले को संज्ञान में लेकर आगे की क्या कार्यवाही करते है।

वाराणसी:रामनगर पालिका में भ्रष्टाचार का बोलबाला,पास की गई फाइलों को अतरिक्त शुल्क के लिए लगाई गई रोक

SHARE ON FACEBOOK READ MORE NEWS JOIN US

DOWNLOAD OUR APP

SANDEEP KR SRIVASTAVA
22/07/2021
245
2