AAGAZ INDIA
TRUTH BEHIND THE NEWS

भ्रष्टाचार का शिकार हुआ अधिवक्ता : घुस न देने पर सरकारी कर्मचारियों ने की अधिवक्ता से अभद्रता

SANJEEV KR TIWARI 31 Aug 2021 803

वाराणसी : मौजूदा सरकार कितनी भी पहल कर ले पर सरकारी विभागों में हो रहे भ्रष्टाचार थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। जनता तो अब तक भ्रष्टाचार सह रही थी पर जब कानून की पैरवी करने वाले अधिवक्ताओं से भी भ्रष्टाचार होने लगे तो क्या कहें?

सरकारी विभाग के कुछ ऐसे कर्मचारीयों ने मानो कसम खा रखी हो ऐसा ही एक मामला सामने आया है जिसमें जनपद वाराणसी के राजातालाब तहसील का जहां पर पेशे से अधिवक्ता श्री मयंक कुमार पांडे खसरा बनवाने गए। जहां हल्का लेखपाल आशीष कुमार ने एक खसरा बनवाने के नाम पर ₹500 की घूस मांगी। प्रार्थी ने जब इसका विरोध किया तो लेखपाल महोदय ने प्रार्थी से बहस करना और अभद्रता करना शुरू कर दिया। इतना ही नहीं उसके बाद शराब के नशे के हालत में कानूनगो महेंद्र सिंह भी वहाँ आए और उन्होंने भी घुस को वैध बताते हुए अधिवक्ता के साथ अपनी सारी हदों को पार करते हुए मां बहन की भद्दी-भद्दी गालियां दी और हाथापाई की। अधिवक्ता महोदय के मान-सम्मान को ठेस पहुंची, जिसके बाद पीड़ित अधिवक्ता ने आज जिलाधिकारी वाराणसी को प्रार्थना पत्र देकर न्याय दिलाने की मांग की।


भ्रष्टाचार का शिकार हुआ अधिवक्ता : घुस न देने पर सरकारी कर्मचारियों ने की अधिवक्ता से अभद्रता
SANJEEV KR TIWARI
31/08/2021
312
2