AAGAZ INDIA NEWS logo

मजदूरों के पलायन पर, अधिवक्ता रतनदीप सिंह के विचार

SHASHIKESH TIWARI 18/05/2020 131


SHARE ON WHATSAPP

वाराणसी:-अधिवक्ता छात्रनेता रतनदीप सिंह की वाणी से मजदूरों का पलायन किसे कहा जायेगा, अपने गांव से शहर की ओर या शहरों से अपने गांव की ओर ?
बड़े -बड़े अर्थशास्त्री, राजनीति के पंडित, पत्रकार सभी मजदूरों के अपने घर वापस आने को पलायन कह रहे हैं। इसका मतलब सबके मन में यह धारणा बैठी है कि मजदूरों का गांव से शहर को आना तो natural है , लेकिन वापस अपने घर लौटना अविश्वसनीय अप्राकृतिक है, क्योंकि इतिहास गवाह है कि शहरों की ओर रुख करने वाले कभी वापस लौट के नहीं आते।
पूरा राजनैतिक तंत्र, ब्यूरोक्रेसी, मीडिया, अर्थशास्त्री, समाज इसी उलटबांसी चिंतन पर जी रहा है और ये ऐसी ही नीतियां बनाते हैं ताकि कोई वापस अपने घर न लौटे। इन्हें नीति नियंता कहा जाय या नियति नियंता जिन्होंने भारत के ग्रामीणों की यही नियति निर्धारित की है ? इसीलिए ये सब मिलकर इस उल्टे प्रवाह को ही पलायन कह रहे हैं।

DOWNLOAD OUR APP


1वाराणसी: रामनगर पालिका परिषद में काफी महीनों से खाली चल रहे,ईओ का राजबली यादव ने संभाला कार्यभार
2वाराणसी:रामनगर पालिका में भ्रष्टाचार का बोलबाला,पास की गई फाइलों को अतरिक्त शुल्क के लिए लगाई गई रोक
3वाराणसी : भाभी ने देवर को कहा नपुंसक तो हथौड़ी और कैंची से मारकर ले ली डॉक्टर भाभी की जान - देवर गिरफ़्तार
4वाराणसी : हिंदू युवा वाहिनी के नेता को मारी गई गोली, ट्रामा सेंटर पहुँचे मंत्री रविंद्र जायसवाल
5वाराणसी : वि‍श्‍व सुंदरी पुल से युवती ने गंगा में लगाई छलांग, अभी तक नही मिला शव - तलाश जारी

SHARE ON WHATSAPP SHARE ON FACEBOOK READ MORE NEWS JOIN US


SHASHIKESH TIWARI
18/05/2020
458
2