AAGAZ INDIA NEWS logo

अमृतसर हादसा: कब, क्या और कैसे हुआ ?

AAKASH TIWARI 20/10/2018 113


SHARE ON WHATSAPP

कब क्या हुआ ?

अमृतसर रेलवे स्टेशन से करीब चार किलोमीटर दूर जोड़ा फाटक के पास दशहरा मेले के आयोजन किया गया था.
क़रीब सात हज़ार लोग रावण दहन के लिए मैदान में जमा हुए थे
इस मैदान की क्षमता दो से ढाई हज़ार लोगों की बताई जा रही है.
आम लोगों के लिए मैदान में जाने और आने का एक ही रास्ता था
मैदान के एक हिस्से में वीआईपी मेहमानों के लिए मंच बनाया गया था, जिसके पीछे से उनके आने-जाने की व्यवस्था थी
जिस समय हादसा हुआ उस समय पंजाब के मंत्री नवजोत सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर भी मौजूद थीं
प्रत्यक्षदर्शियों का दावा है कि हादसे के बाद वो वहां से तुरंत निकल गईं
मैदान में ही एक दीवार है जो रेलवे लाइन और मैदान को अलग करती है. लोग दीवार और रेलवे ट्रैक पर मौजूद थे
हादसा शाम करीब साढ़े छह बजे हुआ लेकिन पुलिस और एंबुलेंस क़रीब एक घंटे बाद घटनास्थल पर पहुंची.
क़रीब दस हज़ार लोग अब भी घटनास्थल पर मौजूद हैं.
अमृतसर के गुरुनानक अस्पताल, गुरु रामदास अस्पताल, फोर्टिस अस्पताल और पार्वती देवी अस्पताल मे चल रहा है घायलों का इलाज.
हादसे के बाद रेलवे को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं. हालांकि रेल प्रशासन का दावा है कि रेलवे की ओर से पूरी सावधानी रखी गई थी.

दीपक कुमार, मुख्य प्रवक्ता, उत्तर रेलवे

DOWNLOAD OUR APP


1वाराणसी: रामनगर पालिका परिषद में काफी महीनों से खाली चल रहे,ईओ का राजबली यादव ने संभाला कार्यभार
2वाराणसी:रामनगर पालिका में भ्रष्टाचार का बोलबाला,पास की गई फाइलों को अतरिक्त शुल्क के लिए लगाई गई रोक
3वाराणसी : भाभी ने देवर को कहा नपुंसक तो हथौड़ी और कैंची से मारकर ले ली डॉक्टर भाभी की जान - देवर गिरफ़्तार
4वाराणसी : हिंदू युवा वाहिनी के नेता को मारी गई गोली, ट्रामा सेंटर पहुँचे मंत्री रविंद्र जायसवाल
5वाराणसी : वि‍श्‍व सुंदरी पुल से युवती ने गंगा में लगाई छलांग, अभी तक नही मिला शव - तलाश जारी

SHARE ON WHATSAPP SHARE ON FACEBOOK READ MORE NEWS JOIN US


AAKASH TIWARI
20/10/2018
113
1